Connect with us

Food

Badam Khane Ke Fayde : Importance of Almonds

Published

on

Badam

Badam : यह पश्चिम एशिया, यूरोप, ब्लूचिस्तान, अफगानिस्तान, कश्मीर, पंजाबमें प्रचुर मात्रा में होता है। इसका छिलका बहुत कठोर होता है जिसे तोड़ कर इसकी गिरी निकाली जाती है।

यह गिरी मीठी एवं कड़वी दो प्रकार की होती है। कड़वा Badam सेवन योग्य नहीं होता। बादाम का तेल हल्का पीला, साफ, हल्की गंध युक्त, स्वाद रहित और बहुत गुणकारी होता है।

Badam के दुष्प्रभाव – Side effects of almonds

मीठा बादाम मधुर, पौष्टिक एवं वीर्यवर्धक; पित्त तथा वात नाशक, स्रिग्घ, गरम और कफ कारक होता है साथ ही रक्त, पित्त के रोगी के लिए हानिकारक होता है।

कड़वा बादाम विषाक्त एवं हानिकारक होने से सेवन योग्य नहीं होता। अत: इसका सेवन नहीं करना चाहिए।

Badam का उपयोग – Use of Almonds

सूखे मेवे के रूप में बादाम का उपयोग मिठाई, ठंडाई आदि में किया जाता है। पौष्किता, दिमागी शक्ति, स्नायविक सुदृढ़ता, नेत्र ज्योति की रक्षा और बल वोर्य को वृद्धि  के लिए बादाम का सेवन बहुत लाभप्रद होता है।

इसका सेवन करने को सबसे अच्छी और कारगर विधि इसे पानी के साथ दल की तक प्र पर विस कर दूध में मिला कर पीना चाहिए। इस तरह से करने पर बादाम ठीक से हजम हो जाता है और शरीर में शीघ्र असर करता है।

छोटा सा दाम कई तरह से प्रयोग में लिया जा सकता है जिससे शरीर में होने वाली कमियों एवं व्याधियों को दूर किया जा सकता

Badam के पौष्टिक प्रयोग – Nutritious use of Almonds

शरोर को सुडौल, पुष्ठ और सशक्त बनाने के लिए बादाम की एक गिरी सुबह एक कप पानी में डाल कर रख दें। शाम को सोने से पहले इस गिरी का छिलका हटा कर इसे साफ पत्थर पर पानी के साथ घिस कर लेप को कटोरी में उतार लें।

एक कप ठंडे दूध में इस लेप को डाल दें और 7-2 चम्मच शहद डालकर घोल लें। इसे पी लें। गिरी शाम को भिगो कर रख दें और सुबह तथा सोते समय यानी दोनों वक्त सेवन कर सकते हैं।

Badam – Almond

प्रति सप्ताह एक बादाम बढ़ाते जाएं और जितनी संख्या में ठीक से पचा सके उतनी संख्या में बादाम गिरी को घिस कर सेवन करते रहें। पानी में 0-42 घंटे तक बादाम रुखने से इसमें एक ऐसा नया तत्त्व पैदा होता है जो पाचन-क्रिया को बल एवं उत्तेजना प्रदान करने वाला होता है।

इस प्रयोग के साथ परुषों और स्त्रियों के लिए. विशेषकर शिशु को दूध पिलाने वाली माताओं के लिए 5 ग्राम अश्वगंधा का महीन चूर्ण और शतावर का चूर्ण मिलाना बहुत गुणकारी होता है। विद्यार्थी या युवक-युवतियों के लिए भी अश्वगंधा चूर्ण वाला प्रयोग उत्तम होता है।

इसकी विधि यह है कि अश्वगंधा या शतावर का चूर्ण (जो भी सेवन करना हो) शहद में मिलाकर चाट लें और ऊपर से बादाम मिला हुआ दूध पी लें। इस दूध में भी -2 चम्मच शहद घोलना चाहें तो घोल सकते हैं। छात्र-छात्राओं, युवा एवं प्रौढ़ स्त्री-पुरषों के लिए भी यह प्रयोग बहुत गुणकारी होता है।

यह प्रयोग शरीर को सूखे मेवे के रूप में बादाम का उपयोग मिठाई, ठंडाई आदि में किया जाता है। पौष्टिकता, दिमागी शक्ति, स्रायविक सुद॒ढ़ता, नेत्र ज्योति की रक्षा और बल वीर्य की वृद्धि के लिए बादाम का सेवन बहुत पुष्ठ और सुडौल बनाने वाला, कमजोरी दूर करने वाला, दिमागी ताकत और नेत्र ज्योति बढ़ाने वाला, बल वीर्य की वृद्धि करने बाला, स्त्रियों के स्तन पुष्ठ और सुडौल बनाने वाला, चेहरा भरने वाला तथा कमर को शक्ति प्रदान करने वाला होता है। इसका अयोग 40 से 60 दिन तक नियमित रूप से करें।

स्मरण शक्ति दुर्बलता दूर करने के लिए बादाम – Almonds for Premature ejaculation

एक बादाम का घिसा हुआ लेप तैयार कर,इसमें 4-5 काली मिर्च पौस कर मिला लें, 2 ग्राम सोंठ का चर्ण और आधा चम्मच पिसी मिश्री मिला लें। इस मिश्रण को चाट कर ऊपर से गुनगुना गरम दूध पिएं। यह प्रयोग सुबह खाली पेट या शाम के भोजन के 2 घंटे बाद करें।

दोनों वक्त भी कर सकते हैं। लगातार 60 दिन तक सेवन करें अवश्य लाभ होगा। कामुक विचारों एवं वातावरण से भी दूर रहें।

दुबलापन दूर करने के लिए बादाम- Almonds for thinness

बहुत दुबले पतले, पिचके हुए चेहरे तथा निर्बल व्यक्ति जो अपना शरीर मोटा सुगठित एवं सुडौल बनाना तथा चेहरे को भरा हुआ करना चाहते हैं वह रात को पानी में एक Badam भिगों दें। सुबह विस कर लेप कटोरी में उतार कर इसमें मक्खन मिला लें और इस मिश्रण को डबल रोटी पर लगाकर पिसी हुई मिश्री बुरक दें।

इसे खाकर ऊपर से दूध पी लें। यह प्रयोग लगातार 3 माह से 6 माह तक करने से शरीर व चेहरा सुडौल हो जाता है। नेत्र ज्योति बढ़ती है, स्मरण शक्ति त्रीव होती है तथा दिमागी ताकत भी बढ़ती है। इससे बच्चों का हकलाना भी धौरे-धीरे ठीक होता पाया गया है।

चेहरे पर निखार के लिए Badam – Almonds for face whitening

आवश्यक मात्रा में Badam सुबह पानी में भिगो दें व ढक कर रख दें। शाम को फुर्सत के वक्त साफ पत्थर पर पानी के साथ चंदन घिस कर एक चम्मच लेप बना कर कटोरी में उतार लें। इसी पत्थर पर भीगे हुए बादाम, मजीठ व लोप्र पानी से निकाल कर खूब महीन पीस लें व चंदन के लेप में मिला लें। इसमें 50 मि.ली. गुलाब जल मिलाकर शीशी में भर लें।

बस, बढ़िया सुगंधित ब्यूटी-लोशन तैयार है। इसे सुबह-शाम थोड़ा हथेली में लेकर चेहरे पर लगा कर थोड़ी देर तक मसल कर सूखने दें।

जहां झांई-धब्बे हों वहां उंगली से दोबारा थोड़ा गाढ़ा लेप लगा दें। यह प्रयोग लगातार करने से दाग, झांई, धब्बे मिटने लगते हैं और चेहरे की त्वचा साफ, चिकनी और चमकदार होती जाती है।

पेशाब में जलन दूर करने के लिए बादाम – Almonds for urination irritation

पांच बादाम कौ गिरी भिगो दें और फिर छील कर इनमें सात छोटी इलायची और स्वादानुसार मिश्री मिलाकर, पीस कर, एक गिलास पानी में घोल कर सुबह-शाम दो बार पीएं तो ऐसा करने से पेशाब की जलन ठीक हो जाएगी।

अल्प मासिक धर्म दूर करने के लिए बादाम – Almonds for short menstrual periods

एक Badam और एक छह रात को पानी में भिगो दें। प्रातः दोनों को पीसकर मक्खन, मिश्री के साथ तीन माह खाएं, मासिक धर्म खुलकर अच्छी मात्रा में आएगा।  

स्मरणशक्ति दुर्बलता दूर करने के लिए Badam – Almonds for memory weakness

10 बादाम रात को भियो दें। सुबह छिलका उतार कर 12 ग्राम मक्खन और मिश्री मिलाकर एक दो माह खाने से मस्तिष्क की कमजोरी दूर हो जाती है। यदि यह संभव न हो तो 40 दिन तक सात बादाम, मिश्री, सौंफ प्रत्येक को दस ग्राम पीसकर रात को गर्म दूध के साथ लेने से मस्तिष्क को दुर्बलता दूर होती है, स्मरण-शक्ति बढ़ती है तथा उससे नेतर ज्योति तेज होती है। चश्मा लगाने की आवश्यकता नहीं रहती है। रात भर पानी न पीएं।

यदि यह भी न हो सके तो दस Badam बारीक पीस कर आधा किलो दूध में मिलाएं। जब तीन उफान आ जाए तो उतार कर ठंडा कर के चीनी मिलाकर पीएं।

बादाम की गिरी और सौंफ समान मात्रा में बारीक कूट लें। एक चम्मच रात को सोते समय ठंडे पानी से लें। इससे स्मरण शक्ति बढ़ेगी, सिर-दर्द, कमजोरी दूर होगी।

चक्षु रोग दूर करने के लिए बादाम – Almonds to relieve eye disease

आंख के हर प्रकार के रोग – आखों से पानी गिरना, आंख आना, आंखों की दुर्बलता, आंखों का थकना आदि में रात को बादाम की गुली भिगोकर प्रातः पीस कर पानी मिलाकर पी जाएं। ऊपर से दूध पीएं। सभी प्रकार के चक्षु रोग ठीक हो जाएंगे।

चेचक दूर करने के लिए बादाम – Almonds for chicken pox

चेचक के रोगी को पांच बादाम पाती में भिगोकर पीसकर पिलाने से चेचक के दाने शीघ्र भर जाते हैं तथा जल्दी ठीक हो जाते हैं। दांतों की सफाई बादाम का डिलका जलाकर ढक दें। दूसरे दिन पौसे और राख का पांचवां भाग फिटकरी मिलाकर पुनः पीस लें। इससे मंजन करने से दांत साफ होंगे एवं प्राय: सारे रोग दूर रहेंगे।

दांत खट्टे हो जाएं, होंठ फट जाएं तो 5 Badam खाएं। दांतों की मजबूती के लिए बादाम के छिलके जलाकर बुझाकर पीसकर, सैंधा नमक मिलाकर मंजन करें।

सूखी खांसी दूर करने के लिए बादाम – Almonds for dry cough

सूखी खांसी में Badam मुंह में रखने से गला तर रहता है, खांसी में लाभ होता है। बार- बार निरंतर खांसी उठती हो, लेकिन कफ बाहर नहीं आता हो तो पांच बादाम भिगो दें और फिर उन्हें छील कर उतनी हो मात्रा में मिश्री मिलाकर सुबह-शाम दो बार चारटटे। लाभ होगा।

मोटापा बढ़ाना दूर करने के लिए – Almonds to remove obesity

बारह Badam की गुली रात को पानी में भिगो दें। प्रातः छिलका उतार कर पौस लें। इसमें एक छटांक मक्खन और थोड़ी सी शक्कर मिलाकर डबल रोटी के साथ खाएं। ऊपर से एक पाब दूध पी लें। छ: महीने में मोटे हो और मस्तिष्क भी तेज होगा।

तुतलाना दूर करने के लिए – Almonds to remove lisp

नित्य 72 Badam भिगोकर छील कर,पीसकर, आधी छंटाक मक्खन मिलाकर कुछ महोने खत से बरलाल हफहलाता ठीक हो जाता है। साथ ही धीरे-धीरे बोलने और बिना घबराहट के बोलने का प्रयत्र करना चाहिए।

दस बादाम की गिरी, दस काली मिर्च दोनों को बहुत बारोक पीस कर मिश्री मिलाकर चाटने से तुतलाना ठीक हो जाता है।

वीर्य-सखलन दूर करने के लिए Badam – Almonds for ejaculation

जिनका वीर्य सम्भोग के आरंभ होते ही स्खलित हो जाए, निकल जाए उन्हें बादाम की गुली 6, काली मिर्च 6 दानें, सौंठ 2 ग्राम, मिश्री इच्छानुसार इन सबको मिलाकर चबा-चबाकर खाएं, ऊपर से दूध पीएं।

शक्तिप्रद दूर करने के लिए Badam

बारह बादाम की गिरी रात को भिगो दें। सुबह पीस लें। फिर कलई वाली पीतल की कढ़ाई में घो डालकर, उसमें पीसे हुए बादाम को डालकर सेकें। लाल होने से पहले ही आधा पाव दूध डालें। इसे हल्का गर्म ही पी जाएं। इससे शरीर पुषट होगा, वॉर्य बढ़ेगा दुर्बलता दूर होगी।

पीलिया दूर करने के लिए – Almonds to relieve jaundice

6 बादाम, 3 छोटी इलायची, दो छूहारे रात को मिट्टी के कोरे कुल्हड़ में भिगोएं। प्रातः बारीक पीसकर 70 ग्राम मिश्री, 50 ग्राम मक्खन मिलाकर चारटें। तीसरे दिन ही पेशाब साफ आएगा। यह अनुभूत है।

झांईँ व दाग-धब्बे दूर करने के लिए बादाम – Almonds to remove pimples and blemishes

पांच Badam गिरी रात को भिगो दें। छिलका उतार कर बहुत बारौक पीसें और शैशी में भर लें। इसमें 60 ग्राम गुलाब जल, 5 बूंद चंदन का इत्र मिलाकर हिलाएं। चेहरे, बदन पर जहां कहीं भी धब्बे, झांई हो, नित्य तीन बार लगाएं। जहां गहरा धब्बा हो वहां ज्यादा मात्रा में लगे रहने दें। इससे जाई, धब्बे ठीक हो जाएंगे।

Must Read – Best Event Management Institute in Mumbai – NAEMD

Badam khane ke kya fayde hote hai?

बादाम का उपयोग मिठाई, ठंडाई आदि में किया जाता है।
पौष्टिकता, दिमागी शक्ति, स्रायविक सुद॒ढ़ता, नेत्र ज्योति की रक्षा और बल वीर्य की वृद्धि के लिए पाचन में मदद, वज़न घटाने में , दिल को स्वस्थ रखने के लिए, कैंसर से लड़ने के लिए बादाम का उपयोग किया जाता है।

Hello friends my name is Prince Jose and you all are welcome on our website onlinetrendzs.com.

Click to comment

Leave a Reply

Trending

Copyright © 2020 Prince Jose.